Sun. Sep 26th, 2021
    sip kya hota hai
    Spread the love

    sip क्या होता हैं – SIP क्या होता हैं? सिप पूरी जानकारी | SIP Kya Hota Hai
    आज के इस लेख में हम जाएँगे की SIP Kya Hota Hai , और SIP कैसे काम करता हैं , Sip के क्या फायदे हैं , और हम sip को कैसे शुरू कर सकते हैं। और अगर आप mutual Sip शुरू कर रहे हैं तो आप को किन किन बातो का ध्यान रखना चाहिए, SIP का full form सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान

    SIP Kya Hota Hai | SIP क्या होता हैं

    SIP का फुल फॉर्म क्या होता हैं – SIP का full form – Systematic Investment plan म्यूच्यूअल फण्ड में व्यय करने के कुछ सिस्टेमेटिक तरिके होते या कुछ नियम होते व्यय करने के जिन्हे हम SIP कहते हैं। SIP के अंतर्गत एक सही समय पर कुछ फिक्स अमाउंट invest किया जाता हैं। जैसे – आप किसी MF scheme में हर महीने कुछ fix amount 2000 जमा कर रहे हैं।

    तो ये चीज फिक्स हैं की आप को हर महीने 2000 इन्वेस्ट कर रहे हैं। तो sip में आप invest करने के साथ आप seving भी कर पाते हैं। SIP अमाउंट आप अपने हिसाब से सुनिश्चित कर सकते हैं। आप चाहे तो आप कितना भी निवेश कर सकते हैं , चाहे वो 1000 हो 2000 या 500 हो ये आप के ऊपर निर्भर करता हैं। आप को ये ध्यान देना रहता है की आप जिस भी म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कर रहे हैं उस म्यूच्यूअल फण्ड में SIP से निवेश करने के लिए सबसे काम अमाउंट कितना हैं।

    और अगर आप जिस भी म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कर रह और उस म्यूच्यूअल फण्ड के SIP में निवेश करने का सबसे काम अमाउंट अगर 500 हैं तो आप 500 रूपये भी उस म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश कर सकेंगे और उससे ज्यादा भी कर सकते है अपने स्तिथि और परिस्थिति के हिसाब से कर सकते हैं। SIP Kya Hota Hai

    SIP इन्वेस्टमेंट कितने समय के लिए करे –
    SIP इन्वेस्टमेंट कितने समय के लिए करना हैं ये आप खुद ही डिसाइड कर सकते हैं , आप 3 साल के लिए इन्वेस्ट कर सकते हैं , 5 साल के लिए इन्वेस्ट कर सकते हैं या 10 साल के लिए इन्वेस्ट कर सकते हैं। या फिर फॉर्म भरते समय आप टिक कर सकते हैं की जब तक ये cancel न किया जाये तब तक।

    SIP किस तरह काम करता हैं –

    SIP में हर महीने एक fix amount किसी fix samy पे Invest करना पड़ता हैं , और जिस समय या किस date को SIP में amount निवेश करने का समय फिक्स रहता है तो उस date को हमारे बैंक से जो भी हमारा अमाउंट सेलेक्ट रहता हैं तो वह पैसे कट जाते हैं , और जो पैसा हमारे अकॉउंट से कटा है तो वह पैसा म्यूच्यूअल फण्ड में जा कर जमा हो जाता हैं हमारे नाम से और ऐड हुए पैसे से जो भी तत्काल में चल रहे

    NAV यूनिट में हमारे अकाउंट में जुड़ जाता हैं। और फिर समय के साथ साथ जैसे जैसे हमारा म्यूच्यूअल फण्ड जितना अच्छा प्रफॉर्म करता हैं , उसी हिसाब से हमारा NAV ऊपर निचे होता रहता हैं , और अगर हम कभी कितने समय के लिए अपना SIP सेलेक्ट किये हैं उस बीच में अगर हमे अपना पैसा निकलना पड़े तो हम अपने म्यूच्यूअल फण्ड कंपनी के पास जा सकते हैं या फिर हम ऑनलाइन से अपने पोर्टफोलियो से अमाउंट रिडीम ऑप्शन पर क्लिक करके फिर जो भी current NAV हैं उसके हिसाब से अगर NAV ऊपर हैं तो हम प्रॉफिट में रहेंगे और अगर NAV निचे हैं तो हम loss में रहेंगे और फिर 2 दिन में पैसे हमारे अकाउंट में आजायेंगे।

    SIP में निवेश करने के फायदे –

    SIP में जो फिक्स टाइम और फिक्स अमाउंट रहता हैं वह हमारे बैंक से कट जाता है लेकिन वह पैसा इन्वेस्ट भी हो जाता हैं और सेविंग भी हो जाता हैं। और SIP में कोई इन्वेस्ट करने की लिमिट नहीं होती हैं , आप अपने हिसाब से ५०० भी हर महीने इन्वेस्ट कर सकते हो और लॉन्ग टर्म में ये ज्यादा बेनफिट होता हैं। कई लोग कहते रहते हैं की हमारे पास ज्यादा पैसा नहीं हैं निवेश करने के लिए तो इसमें कोई निवेश करने के लिए कोई लिमिट नहीं है। और अच्छे म्यूच्यूअल फण्ड हर महीने लगभग 15% का रिटर्न दे देते हैं।

    अगर आप SIP के थरु इन्वेस्ट करते हैं तो आप काफी ज्यादा लाभ पा सकते हैं , लेकिन जब आप लॉन्ग टर्म के लिए निवेश करते है तो अगर आप हर महीने 500 लगातार 30 साल के लिए आप निवेश करते हैं और अगर 15% का CAGR का लाभ मिलता हैं तो आप 28 लाख से भी ज्यादा पैसे पा सकते हैं और अगर आप हर महीने 3000 हजार निवेश करते हैं और अगर 15% का CAGR का लाभ मिलता हैं

    तो आप 30 साल तक लगातार निवेश करने के बाद आप को 1.5 करोड़ से भी कही ज्यादा पैसे मिलेंगे और अगर आप ने हर 5000 हजार निवेश करते हैं वो भी 30 साल तक और अगर 15% का CAGR का लाभ मिलता हैं तो आप को 30 साल के बाद करीब करीब 3 करोड़ तक पैसे मिलेंगे तो म्यूच्यूअल फण्ड में SIP के थरु निवेश करने पर अच्छा लाभ मिलता हैं। लेकिन आप को अच्छा म्यूच्यूअल फण्ड देख कर ही निवेश करने चाहिए क्युकी सभी म्यूच्यूअल फण्ड इतना अच्छा लाभ नहीं दे पाती।

    SIP म्यूच्यूअल फण्ड कैसे शुरू करे –

    सबसे पहले आप को एक समय निर्धारित करना पड़ेगा की आप कब तक निवेश कर सकते हैं , अगर आप कोई जॉब में हैं और आप उस जॉब से कब रिटायर होंगे तब का से निर्धारित कर लीजिए और तब निवेश करते हैं , और जब जॉब से रिटायर होंगे तब तक आप के एक अच्छा खासा सेविंग मनी होंगे , या फिर आप घर खरीदने तक का समय निर्धारित कर सकते हैं की जब तक घर के लिए पैसे नहीं इक्कठे हो जाते तब तक आप निवेश करते रहेंगे।

    १- आप को अपना एक कोई गोल निर्धारित करना होगा की आप को ये चीज करना हैं और जब तक वह चीज पूरी नहीं होती तब तक आप निवेश करते रहेंगे।
    २- आप को समय निर्धारित करने के बाद आप को एक fix amount सेलेक्ट करना पड़ता हैं। की आप हर महीने कितना इन्वेस्ट कर सकते हैं।
    ३- आप को एक कोई अच्छा म्यूच्यूअल फण्ड स्कीम सेलेक्ट करना पड़ता हैं , आप पता कर के एक अच्छे म्यूच्यूअल फण्ड में इन्वेस्ट करे पुरे मार्केट में 2000 से भी ज्यादा स्कीम आप को मिल जायेंगे लेकिन आप पूरा समय लेकर अच्छी स्कीम चुने।

    ४- म्यूच्यूअल फण्ड को जब आप सेलेक्ट कर लेंगे तो आप को उसके बाद म्यूच्यूअल फण्ड की वेबसाइट पर जाना पड़ेगा , फिर उस म्यूच्यूअल फण्ड वेबसाइट में अपना अकाउंट बना कर एक plan सेलेक्ट करने के बाद KYC करना पड़ता हैं , KYC करने के बाद आप अपने म्यूच्यूअल फण्ड अकाउंट को अपने बैंक से जोड़ देना पड़ेगा। जोड़ने के बाद इन्वेस्ट कर सकते हैं।

    SIP में निवेश करते समय किन किन बातो ध्यान रखना चाहिए –

    • १- SIP में निवेश करने से पहले एक अच्छा प्लान चुन ले , और जब भी आप प्लान चुने तो डायरेक्ट प्लान चुने और वह प्लान ग्रोथ में रहे उसी को चुने और बाकि का आपका पैसा निवेश होता रहे।

    • २- जो भी आप स्कीम आप चुन रहे हैं , उस स्कीम को चुनने से पहले उसके बारे में अच्छे से पता करले की इससे लाभ होगा की नहीं , आप अपने किसी जानने वाले से पता कर सकते है या फिर कोई आर्टिकल पढ़ कर या यूट्यूब पे देख कर पता कर सकते हैं।

    • ३- आप को इस बात का भी ध्यान रखना है की आप को सभी पैसे कभी भी एक ही फण्ड में निवेश नहीं करने चाहिए , क्युकी अगर एक में निवेश किये रहेंगे तो अगर वह स्कीम निचे गिरने लगा तो आप के पुरे पैसे निचे गिरने लगेंगे और अगर आप कई फण्ड चुने हैं और अगर एक कोई फण्ड निचे गिरता है तो बाकि के बचे फण्ड रिकवर कर लेंगे।

    • ४- जिस गोल के लिए आप निवेश कर रहे तो यह ध्यान में रख कर निवेश करियेगा की आप का जो निवेश अमाउंट हैं वह इतना होना चाहिए की आप जिस गोल के लिए निवेश कर रहे वह उस निवेश से पूरा हो जाए।

    • ५- एक बात का हमेशा ध्यान में रखियेगा की आप लोग टर्म के लिए ही निवेश करे क्युकी जो लाभ मिलेगा वह आप को लोग टर्म में ही मिलेगा और जब आप निवेश कर चुके हो तो आप को हर रोज अपना फण्ड नहीं चेक करना हैं की अभी कितना है या कितना बढ़ा आप को महीने या 2 महीने के बाद चेक करना चाहिए, क्युकी शार्ट टर्म में ऊपर निचे होता रहता हैं , तो आप इस चीज से घबरा सकते हैं।


    आप एक अपना गोल निर्धारित किये और अब आप चाहते हैं की मेरे जॉब से रिटायर के तक मैं 1 करोड़ का फण्ड जमा कर लू और आप यह भी तय कर रहे हैं की आप हर महीने आप 3000 तक निवेश करोगे अगर आप ने 30 साल के लिए निवेश किया है और आप हर महीने 300 हजार निवेश कर रहे है तो अगर 3000 निवेश करने पर 15% का CAGR का एवरेज लाभ मिलता है SIP Kya Hota Hai

    तो आप का फण्ड 30 साल में करीब 1 करोड़ 70 लाख तक हो जायेगा तो आप आराम से इतने फण्ड बना सकते हो अपने जॉब से रिटायर तक , तो आप एक अच्छा म्यूच्यूअल फण्ड चुने और लम्बे समय के लिए इन्वेस्ट करे और अच्छा लाभ उठाए, तो ये कुछ विशेष बाते हैं जो आप इन्वेस्ट करते समय ध्यान रखना हैं। सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान या सिप क्या है SIP Kya Hota Hai


    Spread the love
    One thought on “SIP क्या होता हैं? सिप पूरी जानकारी | SIP Kya Hota Hai”
    1. आपने बहुत ही अच्छी जानकारी दी है। बहुत अच्छे तरीके से हर बात को समझाया है। आपकी हरेक बात आसानी से समझ में आ गई है।
      मेरा भी एक blog है, http://www.finoin.com जिसमे Share market and Mutual funds Investment की जानकारी प्रदान किया जाता है।
      तो please आप मेरे blog के लिए एक Backlink प्रदान करें।
      आपका धन्यवाद…

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *