• January 17, 2022

एकांकी और नाटक में अंतर क्या है | Natak or Ekanki me Antar

Spread the love

Natak or Ekanki me Antar इस लेख में एकांकी और नाटक में अंतर क्या है, एकांकी की परिभाषा और नाटक की परिभाषा के विषय में जानकारी मिलेगी।

Natak or Ekanki me Antar
Natak or Ekanki me Antar

एकांकी | Ekanki

1-एकांकी में केवल एक ही अंक होता है।
2- एकांकी में केवल मुख्य कथा होती है।
3- एकांकी में पत्रों की संख्या नाटक के अपेछा काम होता है।
4- एकांकी दृश्य काव्य का लघु रूप है।
5- एकांकी में समय घटना तथा स्थान पर विशेष ध्यान दिया जाता है।
6- एकांकी रंग विरंगे फूलो का एक गुलदस्ता है
उदाहरण
राधाचरण गोस्वामी – भारत माता , अमरसिंह राठौर
जयशंकर प्रसाद – एक घूँट

एकांकी की परिभाषा | ekanki ki paribhasha

एकांकी एक अंक का वह दृश्य काव्य है , जिसमे एक कथा एवं एक उद्देश्य को कुछ पात्रों के माध्यम से प्रस्तुत किया जाता है।

एकांकी के प्रमुख तत्व

1- कथावस्तु
2- संकलन त्रय
3- पात्र एवं चरित्र चित्रण
4- द्व्द संघर्ष
5- संवाद या कथोपकथन
6- भाषा शैली
7- अभिनयेता

नाटक | Natak

1- नाटक में अनेक अंक होते है।
2- नाटक में मुख्य कथा के साथ साथ प्रासंगिक कथाएँ भी होती है।
3- नाटक में पात्रों की संख्या अधिक होती है।
4- नाटक दृश्य काव्य का दीर्घ रूप है।
5- नाटक में इसका रूप नहीं है।
6- नाटक फूलो का एक उद्यान है।
उदाहरण –
जयशंकर प्रसाद – चन्द्रगुप्त , स्कंदगुप्त
मोहन राकेश – आषाढ़ का के दिन , लहरों के राजहंस

नाटक की परिभाषा | Natak ki Paribhasha

नाटक एक दृश्य काव्य विद्या है। यह अभिनय होता है। नाटक पढ़े या सुने जा सकते है , किन्तु पूर्णानदानुभूति अभिनय देखकर ही की जाती है।

नाटक के प्रमुख तत्व –

1- कथावस्तु
2- पात्र एवं चरित्र – चित्रण
3- संवाद या कथोपकथन
4- भाषा – शैली
5- देशकाल एवं वातावरण
6- उद्ददेश्य
7- अभिनेताय

इसे भी पढ़े…

वर्ण किसे कहते हैं

संज्ञा की परिभाषा

अलंकार किसे कहते हैं | Alankar ke bhed, paribhasha

संस्मरण क्या है | संस्मरण किसे कहते है

Kahani or Upanyas me antar


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *