Moral Story

Duniya ka sukh Moral Stories

Imandaar Lakadhaara Hindi Kahani

Duniya ka sukh Moral Stories  यह एक मोरल स्टोरी है.एक जंगल में एक कौवा रहता था. वह अपनी दुनिया में मस्त था. दिन भर जंगल में घुमता और फिर शाम को अपने घोसले में आकर आराम करता. सब कुछ अच्छे से चल रहा था. एक दिन उसने एक हंस को देखा, तो उसके मन में इर्ष्या हुई कि हंस कितना सुन्दर है, एकदम सफ़ेद और मैं कितना काला. अब वह अपने जीवन से दुखी रहने लगा.      यह एक मोरल स्टोरी है.एक जंगल में एक कौवा रहता था. वह अपनी दुनिया में मस्त था. दिन भर जंगल में घुमता और फिर शाम को अपने घोसले में आकर आराम करता. सब कुछ अच्छे से चल रहा था. एक दिन उसने एक हंस को देखा, तो उसके मन में इर्ष्या हुई कि हंस कितना सुन्दर है, एकदम सफ़ेद और मैं कितना काला. अब वह अपने जीवन से दुखी रहने लगा.

Duniya ka sukh Moral Stories

Duniya ka sukh Moral Stories

एक दिन की बात है कौवा निराश मन से हंस के पास गया  और सारी बात बता दी कि तुम तो दुनिया के सबसे सुखी पक्षी हो, तब हंस ने कहा नहीं ऐसी बात नहीं है पहले मैं भी ऐसा ही सोचता था , लेकिन जब मैंने तोते को देखा तो मेरी यह गलतफहमी दूर हो गयी. तोता कितना रंग बिरंगा होता और. उसकी बोली कितनी ही मधुर होती है. अब कौवा और हंस तोता के पास गए और सारीबात का दी. तब तोते ने कहा कि नहीं भाई ऐसी बात नहीं है, मुझसे तो खुबसूरत सुन्दर मोर होता है. वही दुनिया का सबसे खुबसूरत पक्षी है.

 

अब तीनो कौवा, हंस और तोता मोर को मिलने गए. वहाँ उन्होंने सारी बात मोर से कह दी तो मोर बहुत ही निराश स्वर मीन कहा भाई हमें दुनिया की ख़ुशी कहा मिलती है. हमें ही क्यों सच कहूँ तो सिर्फ कौवा ही असली सुखी पक्षी है. हम तीनों को तो इन्सान बंदी बनाकर अपने पास रख लेता है. सिर्फ कौवा ही आजीवन इस खुली हवा में स्वांस लेता है. आज़ादी से बड़ा सुख कुछ नहीं हो सकता है. इसके आगे दुनिया का हर सुख फीका हो जाता है. तो दोस्तों मेरी Duniya ka sukh Moral Stories आपको कैसी लगी अवश्य बताईं और एनी कहानी के लिए इस लिंक Panchayat Moral Story पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

Leave a Comment