Biography

Dilip Kumaar Ki jivani Dilip Kumaar ki Biography

Dilip Kumaar Ki jivani Dilip Kumaar ki Biography

Dilip Kumaar Ki jivani Dilip Kumaar ki Biography दिलीप कुमार जी को ट्रेजडी किंग कहा जाता है. इन्होने भारतीय सिनेमा में अपनी एक अलग छाप छोड़ी है. भारतीय सिनेमा में दिलीप कुमार जी योगदान अतुलनीय है. इन्हें दिल की गहराई को छू लेने वाली मार्मिक कलाकारी का बादशाह कहा गया है.

 

दिलीप कुमार का पूरा नाम मुहम्मद युसूफ खान है. इनका जन्म ११ दिसंबर १९२२ को वर्तमान पाकिस्तान के पेशावर में हुआ था. उनके पिता का नाम लाला गुलाम सरवर और माता का नाम आयशा बेगम था.  उनके भईयों का नाम क्रमशः नासिर खान, एहसान खान, नूर मोहम्मद, अयूब सर्वर और असलम खान था. उनकी बहनों का नाम क्रमशः फौजिया खान, सकीना खान, ताज खान, फरीदा खान, सीदा खान, अख्तर आसिफ था.   हिंदी सिनेमा में आने के बाद इन्होने अपना नाम दिलीप कुमार रख लिया. दिलीप कुमार जी १९४० में हिंदी सिनेमा में कदम रखा, उस समय हिंदी सिनेमा अपने शुरूआती दौर में था. उस समय ना तो ज्यादा अभिनेता होते थे, ना ही फिल्म मेकर और न ही ज्यादा दर्शक वर्ग.

 Dilip Kumaar Ki jivani Dilip Kumaar ki Biography

Dilip Kumaar Ki jivani Dilip Kumaar ki Biography

 

दिलीप कुमार का परिवार काफी गरीब था. भारत-पकिस्तान के बटवारे के दौरान दिलीप कुमार जी का परिवार मुंबई में आकर शिफ्ट हो गया. उनका शुरुवाती जीवन बहुत ही मुश्किलों से गुजरा. खर्च चलाने की लिए उन्होंने पुणे की एक कैंटीन में काम किया. यहीं पर देविका रानी की नजर दिलीप कुमार जी पर पड़ी और फिर तो उनकी किस्मत पलट गयी और वे स्टार बन गए. देविका रानि९ ने ही उन्हें नया नाम दिलीप कुमार दिया. मात्र २५ वर्ष की उम्र में ही दिलीप कुमार जी देश के नंबर एक के अभिनेता के रूप में स्थापित हो गए. उनका नाम लोगों के सर चढ़ कर बोलने  लगा. वे लोगों के दिलों पर राज करने लगे.

 

Dilip Kumaar Ki jivani Dilip Kumaar ki Biography दिलीप कुमार की शादी

 

दिलीप कुमार जी का विवाह फिल्म अभिनेत्री शायरा बानो से वर्ष १९६६ में हुआ. १९८० में उन्होंने आसमां रहमान से दूसरी शादी भी की थी. १९४४ में उन्होंने बोम्बे टाकिज के द्वारा प्रोड्यूस की गयी फिलोम ज्वार भाटा से अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत की. तक़रीबन ५ से ६ दशकों तक उन्होंने भारतीय हिंदी सिनेमा को अपना योगदान दिया. उनकी कुछ  प्रमुख फिल्मे  अंदा(१९५२), आन(१९५२), देवदास(१९५५), आजाद(१९५५), मुग़ल-ए-आजम (१९६०), क्रांति (१९७६), शक्ति(१९८२), कर्मा(१९८६) आदि हैं.

 

Dilip Kumaar Ki jivani Dilip Kumaar ki Biography

Dilip Kumaar Ki jivani Dilip Kumaar ki Biography

 

 

दिलीप कुमार जी को ९ फिल्मफेयर अवार्ड से नवाजा जा चुका है. यह आज तक एक रिकार्ड है. भारत सरकार ने उनकी उपलब्धियों, उनके अमूल्य योगदान को दीखते हुए उन्हें १९९१ में पद्म भूषण, १९९४ में दादा साहेब फाल्के और २०१५ में पद्म विभूषण जैसे सम्मानों से सम्मानित किया. पाकिस्तान की सरकार ने भी उन्हें पाकिस्तान के सर्वोच्च सम्मान निशान-ए-इम्तिआज़ से सम्मानित किया है. तो मित्रोंन मेरा यह लेख Dilip Kumaar Ki jivani Dilip Kumaar ki Biography आपको कैसा लगा, अवश्य बताएं और अन्य कहानियों, लेखों के लिए इस लिंक Biography of Maharana Pratap Panna Dhay Part 2 पर क्लिक करें.

About the author

Hindibeststory

Leave a Comment